इस ऐतिहासिक समय के आने में बस पांच सात मिनट बाकी रह गए हैं !!!

कोई क्षण किसी खास दृष्टि से कितना महत्‍वपूर्ण बन जाता है , इसकी जानकारी मुझे तब हुई , जब रात में मेरे मोबाइल पर मुझे बेटे का यह संदेश मिला ।

On the 7th August '09 at 12hr 34min 56sec, Time and Date will be 12:34:56 07/08/09.. ie 123456789..!! This will never happen again in your life.. So Pass it On and Let Everyone know..!!

तो आइए , यादगार बनाएं इस समय को , इसका कोई ज्‍योतिषीय प्रभाव नहीं ही है , अंकविज्ञान के हिसाब से भी कोई प्रभाव नहीं होना चाहिए , सिर्फ अनोखा गणित है यहां पर , हमलोग सभी इस समय के साक्षी है और इस समय ईश्‍वर से सबके भले के लिए प्रार्थना कर सकते हैं !!

-----------------------------------------------------
चंद्र-राशि, सूर्य-राशि या लग्न-राशि से नहीं, 
जन्मकालीन सभी ग्रहों और आसमान में अभी चल रहे ग्रहों के तालमेल से 
खास आपके लिए तैयार किये गए दैनिक और वार्षिक भविष्यफल के लिए 
Search Gatyatmak Jyotish in playstore, Download our app, SignUp & Login
------------------------------------------------------
अपने मोबाइल पर गत्यात्मक ज्योतिष को इनस्टॉल करने के लिए आप इस लिंक पर भी जा सकते हैं ---------
https://play.google.com/store/apps/details?id=com.gatyatmakjyotish

नोट - जल्दी करें, दिसंबर 2020 तक के लिए निःशुल्क सदस्यता की अवधि लगभग समाप्त होनेवाली है।
Previous
Next Post »

8 comments

Click here for comments
8/07/2009 12:31:00 pm ×

संगीता जी बहुत अच्छी जानकारी इसी बिषय पर थोडा सा मै भी लिखा हु समय हो देख लीजियेगा
पंकज'

Reply
avatar
8/07/2009 01:39:00 pm ×

अच्छी जानकारी..।

Reply
avatar
8/07/2009 04:29:00 pm ×

आया और आ कर चला गया! :(

Reply
avatar
8/07/2009 05:59:00 pm ×

hamne to khoob maja liya tha us pal ka .

Reply
avatar
8/07/2009 06:21:00 pm ×

मोबाइल और सन्देश भेजने वाले नए नए प्रयास करते रहते हैं . अब इसी सन्दर्भ को लीजिये एक तो ये समय आज ही दो बार आयेगा और दूसरा बड़ी होशियारी से २००९ से प्रारंभ के २०० गायब कर दिए :)

Reply
avatar
8/08/2009 07:08:00 pm ×

इस समय को मीडिया वाले पता नहीं क्यों इतना चर्चा में लाये हैं. यह तो मात्र गणित का एक संयोग है. आप देखें की पिछले वर्ष ०६ जून २००९ को ०१ बजकर २३ मिनट ४५ सेकंड में भी इसी तरह का संयोग था जिसमें ० से लेकर ९ तक का अंक क्रम से था.
०१:२३:४५::६:७:८ (क्यों?)

mahesh
http://popularindia.blogspot.com

Reply
avatar
Unknown
admin
8/08/2009 08:50:00 pm ×

सगीत्ता जी अखबार मेने देखा तो था,पर जानकारी के लिये आभार.

Reply
avatar
8/08/2009 09:21:00 pm ×

और मैंने तो बहुत देर कर दी ,आपके ब्लॉग पर आने भी ..............माफ़ी के साथ ..

Reply
avatar