daily horoscope today in hindi

Daily horoscope today in hindi

अभी तक ज्‍योतिष के पूर्ण विकास न होने के बहुत सारे कारण है , जिसमे से एक मुख्‍य कारण इसका जमाने के साथ परिवर्तनशील नहीं होना है और इसके लिए हम भारतीय पूरी तरह जिम्‍मेदार हैं , जिन्‍होने बाद में ज्‍योतिष में कोई रिसर्च ही नहीं किया। दूसरों ने कह दिया कि हमारी परंपराएं गलत हैं , ज्‍योतिष अंधविश्‍वास है तो हम आंख, कान सब मूंदे इसे गलत मानते जा रहे हैं, किसी के कुछ कहने का हमपर कोई असर ही नहीं हो रहा। वो तो भला हो हमारे पूर्वजों का , जिन्‍होने हमारी सामाजिक व्‍यवस्‍था इतनी चुस्‍त दुरूस्‍त बनायी थी, प्राचीन ज्ञान और परंपरा को संभाले जाने के लिए इतने सशक्‍त प्रयास हुए थे कि बुद्धिजीवी वर्ग के द्वारा लाख चाहते हुए भी उसे तोडा नहीं जा सका। 50-55 सालों तक रिसर्च करके हमारे परिवार ने 'गत्यात्मक ज्योतिष' जैसी विधा से आज के ज़माने के अनुकूल बनाकर ज्योतिष को प्रतिष्ठापित करने का पूरा प्रयास किया है।

 jyotish apps download

प्रकृति में से हजारो लाखों करोडो नियम ढूंढे जा चुके और प्रतिदिन लाखों शोध इस बात को स्‍पष्‍ट कर रहे हैं कि इस दुनिया में कोई भी कार्य बिना नियम के नहीं होता है। एक एक बीज में निहित उर्जा जिस ढंग से पौधों , फूलों और और फलों के माध्‍यम से प्रस्‍फुटित होती है , उसे हम उसके बीज को देखकर पहले ही अनुमान लगा लेते हैं। इसके बावजूद इस दुनिया में होनेवाली हर दुखद और सुखद घटनाओं को हम अपने कर्म से जोड देते हैं , जबकि कई जगहों पर हम कर्म से विपरीत फल की प्राप्ति होते देखते हैं। तब फिर हम इसे संयोग या दुर्योग से जोड देते हैं , अज्ञानता में और कर भी क्‍या सकते हैं ? लेकिन जब इस पूरी दुनिया में संयोग और दुर्योग का खेल कहीं देखने को नहीं मिलता , तो फिर हमारे जीवन में कैसे आ सकता है , जरूर इसके पीछे कुछ रहस्‍य है। इस कार्य में सबका साथ बिल्‍कुल आवश्‍यक है , तभी बडे स्‍तर पर सफलता हाथ आ सकती है।

 jyotish app store

बिल्‍कुल अनिश्चित भविष्‍य को देखने की जिज्ञासा ने ही भविष्‍यवाणी करने की अन्‍य विधाओं के साथ ही साथ ज्‍योतिष को भी जन्‍म दिया। सामान्‍य लोगों को भविष्‍य की थोडी बहुत भी जानकारी बहुत ही आकर्षित करती है और यदि एक ज्‍योतिषी किसी भी रूप में भविष्‍य पर थोडा भी प्रकाश डाल दे , तो उसके प्रति लोगों की श्रद्धा का बढना स्‍वाभाविक होता है। पर लोगों को इसके नियम न समझाकर ज्‍योतिषी(चाहे उन्‍होने ज्‍योतिष का ज्ञान प्राप्‍त किया हो या किसी प्रकार की सिद्धि) अपने को भगवान साबित करके खुद की प्रतिष्‍ठा में अभी तक चाहे जितनी भी बढोत्‍तरी करते आए हों , पर इससे ज्‍योतिष जैसे वैदिककालीन विषय के हिस्‍से प्रतिष्‍ठा का नुकसान ही आया है और उसका फल अभी तक ज्‍योतिष के क्षेत्र में समर्पित लोगों को झेलना पड रहा है।

jyotish app free download

यह नहीं माना जा सकता कि सिर्फ ‘गत्‍यात्‍मक ज्‍योतिष’ ही ज्‍योतिष के क्षेत्र में निस्‍वार्थ भाव से समर्पित है , हो सकता है कि समय समय पर और लोगों ने भी कोशिश की होगी , पर उन्‍हें भी किसी ने गंभीरता से नहीं लिया होगा। हमने अपने जीवनभर के अनुभवों में यही पाया है कि लोग एक ज्‍योतिषी से सिर्फ अपने प्रश्‍नों के उत्‍तर जानना चाहते हैं , अन्‍य बातों से उनको कोई मतलब नहीं होता। तो अब आपके बारे में जानकारी देनेवाला यह एप्प आ गया है। एप्प इनस्टॉल करें और गत्यात्मक ज्योतिष से जुडी भविष्यवाणियों को समझने का प्रयास करें। जल्द ही इसमें आपके जीवन के बारे में भी भविष्यवाणियाँ जोड़ी जाएँगी।



Previous
Next Post »